Pandit-Deen-Dayal-Griha-Awas-Home-Stay-Yojana-Online-4
Uttarakhand Government Schemes

Pandit Deen Dayal Home Stay Yojana | उत्तराखंड पंडित दीन दयाल गृह आवास योजना (होम स्टे )2020 |ऑनलाइन पंजीकरण फार्म

Pandit Deen Dayal Home Stay Yojana

Table of Contents

Pandit Deen Dayal Home Stay Yojana |उत्तराखंड पंडित दीन दयाल गृह आवास योजना | दीन दयाल गृह आवास योजना (होम स्टे ) 2020 | ऑनलाइन पंजीकरण फार्म

Pandit Deen Dayal Home Stay Yojana – कोरोना महामारी में हुए नुकसान और अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए सरकारें हर संभव प्रयास कर रही हैं। उत्तराखंड राज्य ने नई राज्य सुधार योजना भी शुरू की है। इस प्लान का नाम पंडित दीन दयाल गृह आवास है।

इस प्लान के जरिए उत्तराखंड में  आने वालें पर्यटकों को अपने घरों में रह सकेंगे और इसके जरिए अपनी आजीविका में सुधार कर सकेंगे। सरकार पंडित दीन दयाल गृह आवास (होम स्टे) योजना में आवेदकों को आर्थिक सहायता देगी। जिसके माध्यम से आप पर्यटकों की मेजबानी के लिए अपने घर का उपयोग कर सकते हैं। जो लोग इस योजना के तहत ऑनलाइन पंजीकरण कराना चाहते हैं, वे अंत तक इस लेख में रहें।

मोदी जी ने देश को आत्मनिर्भर बनाने का वादा किया था। यही कारण है कि उत्तराखंड सरकार ने पंडित दीन दयाल के होम स्टे प्रोग्राम के साथ-साथ वीर चंद्र सिंह गढ़वाली रिजॉर्ट स्वरोजगार कार्यक्रम ऑनलाइन आवेदन स्वीकार करना शुरू किया ।

योजना का उद्देश्य उत्तराखंड पंडित दीन दयाल गृह आवास | Purpose of the scheme Uttarakhand Pandit Deen Dayal Griha Housing

  • स्थानीय लोगों को स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराना और आर्थिक स्थिति में सुधार लाना।
  • पर्यटकों को प्रदेश की व्यंजनों, संस्कृति, ऐतिहासिक विरासत और पारंपरिक पर्वतीय शैली से परिचित कराना।।
  • लोगों को पलायन से रोकने के लिए प्रदेश में रोजगार के अधिक अवसर पैदा करना।
  • 2020 के अंतर्गत 5000 होम स्टे विकसित करना।

पंडित दीन दयाल गृह आवास (होम स्टे) योजना की सरकार देगी ऐसी सब्सिडी | The government will give such subsidy of Pandit Deen Dayal Griha Awas (Home Stay) Scheme

गृह प्रवास विकसित करने के लिए पर्वतीय क्षेत्रों में कुल लागत का 33 प्रतिशत या अधिकतम 10 लाख रुपये की सरकारी सब्सिडी। जबकि सपाट क्षेत्रों में सरकार कुल लागत का 25 फीसद या सात लाख रुपये तक की सब्सिडी देगी।

पंडित दीन दयाल गृह आवास योजना का लाभ | Pandit Deen Dayal Home Stay Yojana

  • गृह नवीनीकरण के लिए बैंक ऋण सहायता भी प्रदान की जाएगी।
  • एसजीएसटी को होम स्टे से होने वाली आय पर पहले तीन साल तक विभाग द्वारा प्रतिपूर्ति की जाएगी।
  • कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए वेबसाइट और  एप दोनो का निर्माण किया जाएगा
  • होम स्टे के लिए चयनित लाभार्थियों को होटल प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
  • योजना के माध्यम से प्रदेश के लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
  • स्कीम के तहत ऑनलाइन अनुरोध किए जा सकते हैं।
  • तीस लाख रुपये की सीमा तक वाणिज्यिक ऋण की स्वीकृति के संबंध में जमा राशि के विलेख में देय शुल्कों का अनुपालन।
  • पुराने भवनों में 2 लाख तक के नए शौचालयों में सुधार, सजावट, रखरखाव और निर्माण की जरूरत नहीं होगी।
  • अपने घरों के व्यावसायिक उपयोग के कारण पर्यटक आम संस्कृति को आसानी से समझ सकेंगे।
  • पर्यटकों के लिए अधिक उपयुक्त आवास व्यवस्था में सुधार किया जाएगा ।

दीन दयाल होम स्टे योजना में पात्रता और शर्तें | Pandit Deen Dayal Home Stay Yojana

  • आवेदन करने वाला व्यक्ति अपने परिवार के साथ घर पर रहता है।
  • इस योजना का उपयोग करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य होगा।
  • योजना का लाभ सिर्फ उत्तराखंड के नागरिकों को ही मिलेगा।
  • यह अनिवार्य है कि आवेदन करने वाले व्यक्ति का अपना घर हो।
  • पर्यटकों को रखने के लिए 1 से 6 कमरे होना जरूरी है।
  • यह योजना नगर पालिका को छोड़कर पूरे प्रदेश में लागू होगी।
  • पारंपरिक पहाड़ी शैली में बने मकानों को तरजीह दी जाएगी।
  • अनुदान द्वारा प्राप्त राशि के अलावा, शेष राशि का प्रबंधन आवेदक द्वारा किया जाना चाहिए, जिसके लिए वह ऋण के लिए भी आवेदन कर सकता है।

पंडित दीन दयाल के होम स्टे कार्यक्रम में आवेदन के लिए दस्तावेज | Documents for application in Pandit Deen Dayal’s Home Stay Program

  • आवेदन करने वाले व्यक्ति के पास उत्तराखंड निवास प्रमाण पत्र होना अनिवार्य होगा।
  • आधार कार्ड अनिवार्य है
  • मतदाता पहचान पत्र
  • पते का सत्यापन
  • मोबाइल फोन नंबर
  • मेल आईडी

पंडित दीन दयाल गृह आवास (होम स्टे) योजना ऑनलाइन पंजीकरण फार्म | Pandit Deen Dayal Griha Awas (Home Stay) Scheme Online Registration Form

जिन लोगों के पास अपना घर है, वे इस योजना में आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले योजना से जुड़ी आधिकारिक साइट पर जाना होगा

लिंक पर क्लिक करने के बाद साइट का होम पेज आपके सामने खुल जाएगा, यहां आपको रजिस्टर करने के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

Pandit Deen Dayal Griha Awas (Home Stay) Yojana Online

उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको फॉर्म दिखाई देगा। अब आपको पहले योजनाबद्ध का नाम चुनना होगा। इसके बाद फॉर्म पर मांगी गई सभी जानकारी पूरी कर फॉर्म जमा करना होगा।

इसके बाद, आपके फॉर्म की समीक्षा की जाएगी और सब कुछ सही होने पर आपको सूचित किया जाएगा।

Questions related to Pandit Deen Dayal Home Stay Scheme

  1. Which state is running the Pandit Deen Dayal Griha Awas Yojana?

    This scheme is being run by the Uttarakhand State Government.

  2. What will be done in Uttarakhand Pandit Deen Dayal Home Stay Scheme?

    Under this scheme, the common houses of the state will be made habitable for tourists, so that people can also earn through their houses.

  3. Will the government be subsidized in Deen Dayal Home Stay Scheme?

    Yes, the government will give subsidy of 25 percent in the plains and 33 percent in the mountainous areas.

  4. In Pandit Deen Dayal Griha Awas Yojana, can houses be used commercially without application?

    No, it will be mandatory to apply

दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास (होम-स्टे) विकास योजना नियमावली

DDU-Homestay-G.O.

Related post – Haryana Parivar Pehchan Patra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *